शनिवार, 24 नवंबर 2018

भारत के वडाप्रधान नरेन्द्र मोदी के बारे में ये बाते बहोत कम लोग जानते है

भारत के वर्तमान वडाप्रधान नरेन्द्र मोदी एक ऐसे व्यक्ति है जो बहोत निचे के लेवल से ऊपर तक आये है,उसका परिवार एक आम परिवार था | इसीलिए नरेन्द्र मोदीजी के बारे में बहोत कुछ ऐसी बाते है जो ज्यादातर लोगो को पता नहीं है | नरेंद्र मोदीजी का जन्म गुजरात के महेसाणा जिल्ले के एक छोटे से गाऊ वडनगर में १७ सप्टेम्बर 19५० में हुआ था | उसने प्राथमिक शिक्षा वही से प्राप्त की थी |

तो पढ़िए नरेन्द्र मोदी के बारे में कुछ खास बाते जो बहोत कम लोग जानते हे |

नरेन्द्र मोदी के बारे में कुछ खास बाते जो बहोत कम लोग जानते हे
नरेन्द्र मोदी

 नरेन्द्र मोदी के बारे में  कुछ खास बाते |


१. नरेन्द्र मोदी बचपन से ही सन्यासी बनाना चाहते थे | वो उसका ऐ सपना पूरा करने के लिए १७ साल की उम्र में ही घर छोड़ के निकल गए | उसने उस समय गुजरात के कुछ राम कृष्णआश्रम से लेकर हिमालय तक भ्रमण किया |

नरेन्द्र मोदी सन्यासी के रूप में
२. जब मोदीजी ने आरएसएस ज्वाइन किया तब उसे पहेले झाड़ू लगाने का कम सोपा गया था | फिर वो आगे जाके आरएसएस के प्रचारक बने

३.मोदीने १९८४ में बीजेपी ज्वाइन किया | उसके बाद गुजरात में पहेली बार बीजेपी अहमदाबाद के चुनाव इलेक्शन जीतीऔर फिर कभी नहीं हारे |

४. इमर्जन्सी के दौरान वो सरदारजी का भेस धारण किये थे | वो एकमात्र बीजेपी के नेता थे जो पकडे नहीं गये थे और  जिसे जेल नहीं हुयी थी |
मोदीजी इमर्जन्सी के वक्त गुप्त वेश में


५. जब मोदी पहेली बार गुजरात के मुख्यमंत्री बने तब , उसकी माता को प्रोमिस किया था "वो कभी लांच रिश्वत नहीं लेंगे "

६.  वो जब सीएम बने तब गुजरात में बिजली और पानी की बहोत समस्या थी | और उसने थाना था की सबसे पहेले वो इस दो समस्या का निवारण करेंगे | आज गुजरात के गावमें भी "ज्योतिग्राम योजना" अनतर्गत २४ घंटे बिजली मिलती है और नर्मदा योजना से पानी पहोचाया जाता है |

७. वो २०१४ में जब वडा प्रधान बने तब उसने अपनी साडी गिफ्ट और अन्य चीजो की लिलामी कर दी | और सारी जमा हुयी रकम "गर्ल्स एज्युकेशन" के लिए दान कर दी |

8. मोदीजी के ट्विटर पर दुनिया के सारे नेताओ में सबसे ज्यादा फोलोवर्स उसके है |

९. मोदीजी ने आजतक एक भी दिन की छुट्टी नहीं रखी है

१०. वो भारत के ऐसे प्रथम वडा प्रधान है जिस का जन्म आज़ादी के बाद हुआ हो !

११. नरेंद्र मोदीजी कविता लिखनेका और फोटोग्राफी का शोख रखते है | उसने गुजराती भाषामे अपनी किताब भी प्रकाशित की है |
फोटोग्राफर नरेन्द्र मोदी


१२ नरेन्द्र मोदीजी स्वामी विवेकानंद के फेन और फोलोवर है | उसने स्वामीजी की बहोत सारी किताबे पढ़ी है |

१३ नरेन्द्र मोदीके उर्जा बचाओ अभियान अंतर्गत २०१८ में "चेम्पियन ऑफ़ धी अर्थ" का एवोर्ड दिया गया |

१४. नरेंद्र मोदी को आजकल नेताओ के फेशन आयकोन माना जाता है | लेकिन उसके सारे कपडे या तो दरजी से सिलवाते है या समान्य ब्रांड के रहेते है |

१५ . उसकी १८ साल की पोलिटिक्स कार्किदी में वो ३ बार सीएम रह चुके है और ४ साल से वडाप्रधान है , फिर भी उसका नाम कभी किसी घोटाले में नहीं आया है | या ना ही उस पर कोईभी अन्य  आरोप का केस चल रहा है |

ऐसी ही जानकारी के लिए ये ब्लॉग फोलो करे | हमे ट्विटर,इन्स्ताग्राम और फेसबुक में फोलो करे |

अन्य जानकारी की सारी  पोस्ट्स पढने के लिए  क्लिक करे =>  जानकारी


Read More

शनिवार, 3 नवंबर 2018

Facts : Kya app Jante hai Ye Google ke raaz ?

गूगल के बारे में बहोत कुछ ऐसी बाते है जो आम लोग बहुत कम जानते है | ये बाते बहोत रसप्रद और मजेदार है| आपको ऐ बाते जान के बहोत मजा आएगा -

गूगल के राज़

 
facts of google
Google ke raaz

  1. गूगल का नाम पहेले "GOOGOL" रखना था , स्पेलिंग मिस्टेक से उसे "GOOGLE" रखा गया |
  2.  आजकल का गूगल का सबसे लोकप्रिय ऑपरेटिंग सिस्टम गूगल ने नहीं बनाया है , उसे ख़रीदा है |युट्यूब भी गूगलने ख़रीदा है |
  3. गूगल के स्थापक को यूज़र इंटरफेस बनाने के लिए HTML नहीं आता था| इसी लिए उसका होम पेज सिम्पल रखा गया था 
  4. गूगल के होम पेज पर रखा गया "I am feeling lucky" वाले बटन का यूज़ १% यूजर भी नहीं करते | लेकिन उसके निकलने पे यूजर्स को अच्छा नहीं लगता, इसी लिए उसे रखा गया है | 
  5. १९९९ में गूगल अपने आप को बेचना चाहती थी लेकिन उस समय की सबसे बड़ी कंपनी याहू और Excite ने उसको खरीदने से मना कर दिया |
  6. गूगल जब शुरू हुआ था तब उसके पास ४ GB का स्टोरेज था ! अभी १००० मिलियन से भी ज्यादा GB डेटा हे उसके पास |
  7. लास्ट २०१३ में ५ मिनिट के लिए गूगल डाउन हुआ था | तब पुरे इंटरनेट का ट्राफिक ४०% कम हो गया था !
  8. GMAIL १ अप्रेल २००४ को लोंच हुआ था, तब सबको लगा था की गूगल एप्रिलफुल बना रहा है 
  9. गूगल के पहेले सर्च पेज पे ही सबसे ज्यादा ट्राफिक आता है, दुसरे पेज पे १०% लोग भी नहीं जाते ! 
  10. २०१० के बाद से गूगल एवरेज हर सप्ताह को एक कंपनी खरीदती है | 
ये जानकारी हमे quoraऔर विकिपीडिया से प्राप्त हुयी है !

ऐसी और जानकारी के लिए हमारा जानकारी विभाग देखे => जानकारी
Read More

Comment with Facebook